Header Ads

बिहार में 13 नए कोरोना पॉजिटिव केस मिले, राज्य में कुल Covid-19 संक्रमितों की संख्या हुई 126 ##

बिहार में  वैश्विक महामारी नॉवेल कोरोना से पीड़ित 13 नए मरीजों की पहचान की गई। मंगलवार की शाम तक इन नए 13 मरीजों की पहचान किये जाने के साथ ही बिहार में कोरोना से संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 126 हो गई । स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार ने बताया कि बक्सर के 4, पटना के एक, मुंगेर के 7 मरीज इनमें शामिल हैं। कोरोना पॉजिटिव मरीज के संपर्क में आने से इनकी टेस्ट पॉजिटिव आई है। इसके साथ ही रोहतास से भी एक मामला सामने आया है। इस मरीज के सम्पर्क का ब्यौरा प्राप्त किया जा रहा है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार बक्सर में 32 साल का एक पुरुष और 12,12,39 तीन महिलाएं कोरोना पॉजिटिव मिली हैं। वहीं, पटना में 31 साल के एक लड़के को कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। मुंगेर से 20, 28, 34, 37 साल की 4 महिलाएं और 28, 34, 36 साल के तीन पुरुष शामिल हैं। रोहतास से 60 साल की एक महिला कोरोना पॉजिटिव मिली है।  

कोरोना प्रभावित 15 जिले हुए
रोहतास में कोरोना पीड़ित मिलने से प्रभावित जिलों की संख्या 14 से  बढ़कर 15 हो गई। तीन दिन पूर्व तक बिहार में मात्र 13 जिले ही कोरोना से पीड़ित थे। जबकि पिछले 48 घंटे में कोरोना के मरीज की पहचान भोजपुर और रोहतास में होने के बाद प्रभावित जिलों की संख्या बढ़कर 15 हो गई। इनके पूर्व पटना, सीवान, मुंगेर, नालंदा, बेगूसराय, नवादा, गया, गोपालगंज, सारण, भागलपुर, वैशाली, बक्सर, और लखीसराय में कोरोना पीड़ितों की पहचान की जा चुकी है।

स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी ताजा आंकड़े के मुताबिक सूबे में  42 लोग अब तक कोरोना जैसी जानलेवा बीमारी को हराकर घर लौट चुके हैं। बिहार में अभी फिलहाल 71 केस एक्टिव हैं। वहीं, यहां अब तक 11339 टेस्ट हो चुके हैं। स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक 2 लोगों की मौत कोरोना के कारण अब तक बिहार में हुई है।  एक व्यक्ति की मौत इसी तीन दिन के अंदर ही हुआ है। राज्य में 302 क्वारंटाइन केंद्र बनाये गए हैं।

सासाराम: कोरोना पॉजिटिव मिलते ही पुराने इलाके में हड़कंप
सासाराम  के बारादरी मोहल्ले में एक मरीज में कोरोना पॉजिटिव पाए जाने की सूचना पर शहर के पुराने इलाके में हड़कंप मच गया। किला थाना क्षेत्र, हनुमानगढ़ी, सागर, चौक बाजार सहित बारादरी मोहल्ले के आस-पास के क्षेत्रों में सन्नाटा पसर गया। लोगों ने खुद को घरों में कैद कर लिया। हर घर में कोरोना पॉजिटिव केस मिलने की चर्चा हो रही थी। हर कोई कोरोना पीड़ित के संपर्क में आने की समीक्षा करने में लगा था। मोहल्ले में अपनों से मिलने गए लोग भी भाग निकले। घर के बालकनी में भी कोई नजर नहीं आ रहा था। जरूरी सामान के लिए खुली दुकानें भी बंद हो गई थी। कारोबारी अपने घर चले गए। घर की महिलाएं किसी को बाहर नहीं निकलने दे रही थी। 

               

कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट आने के बाद शहर की पुरानी बस्ती में चप्पे-चप्पे पर पुलिस तैनात की गई है। गलियों में नजर आने वाले दर्जनों लोगों की पिटाई की गई। पुलिस के साथ मौजूद स्वास्थ्य विभाग की टीम ने पीड़ित महिला के घर को सील कर दिया। पीड़िता के संपर्क में आने वालों की जांच शुरू हो गई है। हालांकि एकाएक बारादरी मोहल्ले में शुरू हुई घर-घर तलाशी व गलियों में पुलिस गश्त देख आमलोग सकते में पड़ गए। लेकिन जैसे ही पता चला कि मोहल्ले में एक कोरोना पॉजिटिव केस मिला है, सबके चेहरे की हवा उड़ गई। पुलिस व स्वास्थ्य विभाग की टीम सर्तकता से जांच में जुटी है। डीएसपी लक्ष्मण प्रसाद ने बताया कि अब किसी को भी घर से बाहर नहीं निकलने दिया जाएगा। सड़क पर जो भी दिखेगा आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत कार्रवाई की जाएगी।

दुबई से लौटा मरीज 26 को कर चुका है संक्रमित

स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव  संजय कुमार ने बताया कि दुबई से लौटा कोरोना का मरीज अब तक कुल 26 लोगों को संक्रमित कर चुका है। इनमें बिहारशरीफ के सदर अस्पताल का डॉक्टर भी शामिल है। इसी मरीज के कारण पटना में भी एक पॉजिटिव मरीज सामने आया है, जो इसका ससुर बताया जा रहा है। पटना सिटी में सुल्तानगंज थाना इलाके के मेवा लाल साव लेन में यह मरीज सामने आया था।


No comments