Header Ads

AAP TAK NEWS : खतरनाक (DANGER)हुआ चक्रवाती तूफान अम्फान, पीएम मोदी ने बुलाई बैठक ##


                                                                 
       
                            चक्रवाती तूफान अम्फान ने सोमवार को बेहद विकराल रूप ले लिया और इसके चलते अब ओडिशा के तटीय इलाकों में तेज हवाएं चलने के साथ ही भारी बारिश हो सकती है। इस चेतावनी के बाद राज्य सरकार 11 लाख लोगों को इन इलाकों से निकालने की तैयारी में जुट गई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शाम चार बजे उच्चस्तरीय बैठक बुलाई है।

                                                  The Modi saga reigns supreme - The Sunday Guardian Live                             



                                                   
      ## मौसम विभाग ने जारी की 21 मई तक भारी बारिश की चेतावनी
                                                                   
                                                      भारतीय मौसम विभाग ने ओडिशा, पश्चिम बंगाल, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम, असम और मेघालय के लिए 21 मई तक भारी वर्षा की चेतावनी जारी की है।

 ## शाम तक प्रचंड चक्रवाती तूफान का रूप धारण सकता है अम्फान

                                                 As Odisha, Bengal Brace For Cyclone Amphan, NDRF Teams Deployed In ...

चक्रवाती तूफान ‘अम्फान’ आज शाम तक प्रचंड चक्रवाती तूफान का रूप धारण सकता है और बुधवार को 185 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलने वाली हवाओं के साथ यह पश्चिम बंगाल और बांग्लादेश तट से टकरा सकता है। गृह मंत्रालय ने यह जानकारी दी है।

 ## पीएम मोदी चार बजे करेंगे उच्चस्तरीय बैठक

चक्रवाती तूफान अम्फान पर चर्चा के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज शाम चार बजे गृह मंत्रालय और राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एनडीएमए) के साथ उच्चस्तरीय बैठक करेंगे।

                                                                      मौसम विभाग ने चक्रवाती तूफान की वजह से अगले चार दिनों तक बारिश की चेतावनी जारी की है। मछुआरों को सलाह दी गई है कि वे अगले 24 घंटे के दौरान बंगाल की दक्षिणी खाड़ी, 17-18 मई के दौरान बंगाल की केंद्रीय खाड़ी और 18-20 मई के दौरान बंगाल की उत्तरी खाड़ी में मछली पकड़ने न जाएं।                                 


                                                         
 
                                                                           www.aaptak.net

       

No comments