Header Ads

AAP TAK NEWS :: मास्क और सेनेटाइज़र बाज़ार से कहां गए ?

                   ##    भारत के स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक़ देश में कोरोना वायरस संक्रमण के कुल पॉज़िटिव मामले करीब 18000 हो गए हैं.
                                                  
                    
                                        
                                                               मामले बढ़ने की ख़बरों के साथ ही लोगों में चिंता भी बढ़ती जा रही है. लोग ख़ुद को और अपनों को कोरोनो वायरस से बचाने के लिए मास्क और सेनेटाइज़र ख़रीदने दुकानों पर पहुंच रहे हैं. हालांकि लॉकडाउन की वजह से अधिकतर इलाकों में दुकानें पूरी तरह बंद हैं और सिर्फ़ ज़रूरत का सामान ही मिल रहा है.
                                                                 
                                       
                                       
    
                                                             दरअसल, कोरोना वायरस से बचने के लिए बार-बार हाथ धोने और घर में रहने की सलाह दी जा रही है. मोदी सरकार ने देशभर में लॉकडाउन की घोषणा की है और लॉकडाउन 31 मई तक चलेगा.
         
             लेकिन, अचानक से मास्क और सेनेटाइज़र की मांग बढ़ने की वजह से लोगों को मास्क और सेनेटाइज़र मिलने में दिक्कत हो रही है. दुकानदारों के मुताबिक मार्च की शुरुआत में अचानक बिक्री बढ़ गई.

                                         लोगों का कहना है कि अब कई मेडिकल स्टोर्स पर मास्क और सेनेटाइज़र नहीं मिल रहे हैं, जहां मिल भी रहे हैं वहां उनकी कीमतें बहुत ज़्यादा हैं. मार्च की शुरुआत में ही बीबीसी ने नोएडा और दिल्ली के कई इलाक़ों में जाकर इस बात की पड़ताल की और पाया कि कई मेडिकल स्टोर्स और दुकानों पर मास्क और सेनेटाइज़र के स्टॉक खत्म हो गए. जहां मिल रहे थे वहां उनकी कीमत 100 रु से 500 रु तक थी.
                                                         
                                           
                                                               
                             
                                                      साकेत श्रीवास्तव नोएडा में रहते हैं. उनका कहना है कि नोएडा में कहीं भी मास्क नहीं मिल रहे हैं. नोएडा के सेक्टर-18 के एक मेडिकल स्टोर पर उन्हें मास्क मिला. लेकिन उनका कहना है कि वहां उन्हें एक एन95 मास्क 499 रुपए में मिला, जबकि उन्होंने बिल्कुल वही मास्क एक दिन पहले कहीं से 250 रुपए में खरीदा था. अशोक कुमार ने आरोप लगाया कि जनता परेशान है, जिसका दुकानदार फायदा उठा रहे हैं.
                                  
                                                                        www.aaptak.net

No comments