Header Ads

AAP TAK NEWS : मंगल पांडे ने कहा राजद के कई विधायक को NDA से लगाओ हो गया ##www.aaptak.net

                                                                         

                                                                      
                     महागठबंधन और राजद में टूट पर स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने गुरुवार को कहा कि यह तो ट्रेलर है, पिक्चर अभी बाकी है। विधानसभा चुनाव से पहले ही राजद धराशायी होने लगा है। यही नहीं राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद के समधी ने भी राजद को बाय-बाय कर एनडीए पर भरोसा जताया है। तेजस्वी यादव से खफा राजद के अन्य बागी विधायक भी एनडीए के संपर्क में हैं। 
                                                             
                                               
                                                                           
                                                              मंगल पांडेय ने कहा कि ऐसे विधायकों की लंबी फेहरिस्त है। जल्द ही ऐसे माननीय जेडीयू और बीजेपी का दामन थामेंगे। इसमें राजद के कई बड़े नेता भी शामिल हैं। वहीं दूसरी ओर महागठबंधन में शुरू से ही अपमानित पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी की पार्टी ने भी महागठबंधन से दूरी बना नेता प्रतिपक्ष की उम्मीदों पर पानी फेरने का काम किया है। राजद में यह बिखराव नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव के अहं के कारण है। सच यह है कि वहां लोगों को फजीहत झेलना पड़ रहा है। उनके द्वारा लगातार किये जा रहे अनर्गल प्रलाप के कारण  विधायकों को क्षेत्र में जनता के कोप का सामना करना पड़ रहा है। 
                                                               
                                                                  स्वास्थ्य मंत्री ने आगे कहा कि बाढ़ हो या कोरोना, संकटकाल में लगातार झूठी बातें बोलने के कारण जनता में नाराजगी बढ़ रही है और उसका खामियाजा माननीय को भुगतना पड़ रहा है। मतदाताओं की नाराजगी को ही भांपकर विधायकों में राजद छोड़ने की होड़ मची है। यह बात अलग है कि विगत दिनों राजद ने अपने तीन विधायकों को पार्टी से निष्कासित कर दिया, लेकिन निष्कासित विधायक निष्कासन से पहले ही मुख्यमंत्री और एनडीए के प्रति आस्था जता चुके थे।
                                                                    www.aaptak.net
                                                                           
                                                                       www.aaptak.net
                                                                           

No comments