Header Ads

AAP TAK NEWS : जानिये क्‍यों चुना गया यह समय अभिजीत मुहूर्त में होगा अयोध्‍या राम मंदिर का भूमिपूजन,## www.aaptak.net

                                                                  

                                             
भूमिपूजन
             प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बुधवार को अयोध्‍या में 2 घंटे 50 मिनट तक रहेंगे। रामलला जी के जन्म स्थान का जीर्णोद्धार प्रक्रिया 5 अगस्त को प्रारंभ होने वाली है। दशकों से लंबित भूमि पूजन का समय अभिजीत मुहूर्त रखा गया है। इस आयोजन की पूरे देश व दुनिया में चर्चाए हैं। इसके बीच अभिजीत मुहूर्त की भी विशेष चर्चा है जिस समय काल में इस कार्य को प्रारंभ किया जाएगा। प्रधानमंत्री मोदी निर्धारित समय दोपहर 12.15 बजे पवित्र अभिजीत मुहूर्त में आधारशिला रखेंगे। इसमें नौ ईंटों का प्रयोग किया जाएगा, जो चार दिशाओं, चार कोणों और स्थान देवता की परिचायक होंगी। इससे पूर्व करीब 10 मिनट तक प्रधानमंत्री रामजन्मभूमि, स्थान-वास्तु सहित आधारशिला में प्रयुक्त होने वाली ईंटों का पूजन करेंगे। ज्‍योतिष की दृष्टि से अभिजीत मुहूर्त अपने आप में अत्‍यंत शुभ माना जाता है। यहां जानिये इस मुहूर्त की क्‍या विशेषता ##

 क्‍या है अभिजीत मुहूर्त

सामान्‍य तौर पर साल के 365 दिन में 11.45 से 12.45 तक के समय को हम अभिजीत मुहूर्त कह सकते हैं। प्रत्येक दिन का मध्य-भाग (अनुमान से 12 बजे) अभिजीत मुहूर्त कहलाता है, जो मध्य से पहले और बाद में 2 घड़ी अर्थात 48 मिनट का होता है। दिनमान के आधे समय को स्थानीय सूर्योदय के समय में जोड़ दें तो मध्य काल स्पष्ट हो जाता है।
                                                                          
    
                                                               
     श्री राम का जन्म हुआ था इसी समय
                                         यह माना जाता है कि भगवान श्री राम का जन्म भी अभिजीत मुहूर्त में ही हुआ था, यही कारण है कि राममंदिर के भूमिपूजन के लिए अभिजीत मुहूर्त को ही तय किया गया है। 5 अगस्‍त, बुधवार को भगवान श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास यहां आयोजन के दौरान करीब 40 किलोग्राम भार की एक चांदी की ईंट श्रीराम शिला को समर्पित करेंगे। इसके अलावा साढ़े तीन फीट गहरी भूमि में चांदी की पांच शिलाएं रखी जाएंगी ##

    12 मिनट इधर, 12 मिनट उधर का बड़ा महत्‍व
                                                                          
       
                                               
              वैसे तो 30 मुहूर्त होते हैं दिन के पूरे 24 घंटे में परंतु सभी के साथ-साथ अभिजीत मुहूर्त का अपना एक विशेष स्थान है। अभिजीत मुहूर्त सूर्योदय से सूर्यास्त के मध्य पड़ने वाला वह समय होता है जिसमें मध्य से 24 मिनट इधर और 24 मिनट उधर का जो समय काल है वह अभिजीत मुहूर्त कहलाता है पर इसमें मध्य से 12 मिनट इधर और 12 मिनट उधर तो अत्याधिक शुभ कहलाते हैं। इस समय में कोई भी शुभ कार्य करना अच्छा माना जाता है। आपका कोई भी शुभ अभीष्ट कार्य है इस काल के दौरान हो तो उसमें जीत मैं कोई संशय नहीं रहता यह भगवान श्री हरि विष्णु के चक्र के समान शक्तिशाली मुहूर्त है। जब आपको कोई भी कार्य है बहुत शीघ्रता से करना हो और शुभ मुहूर्त बहुत दिनों बाद आ रहे हो तो दिन के इस विशेष काल में आप अपने कार्य को प्रारंभ कर सकते हैं यह अनादि अनंत काल से ऋषियों मुनियों योगियों ज्योतिषाचार्य के द्वारा शोधित अत्याधिक शुभ मुहूर्त माना जाता है।
                                                                             
                                                          www.aaptak.net

No comments