Header Ads

AAP TAK NEWS : सारण जिले में भक्ति पूर्वक मनाया गया संत गणिनाथ गोविंद जी महाराज की वार्षिक जयंती।

                                                                
   
                                                                           
                                                                             वर्षों से चली आ रही परंपरा के अनुरूप आज दिनांक 15 अगस्त 2020 (शनिवार) को कोरोना काल खंड की  त्रासदी को ध्यान में रखते हुए मात्र औपचारिक रूप से कानू-हलवाई समाज के कुलगुरु बाबा गणिनाथ गोविंद जी महाराज की वार्षिक जयंती समारोह मौना चौक, मीठा बाजार छपरा, सारण में उनके नाम पर बन रहे मंदिर सह धर्मशाला स्थल पर पूरी श्रद्धा भक्ति के साथ मनाई गई। जैसा कि सभी को विदित है कि हर वर्ष जन्मष्टमी के बाद आने वाले शनिवार को बाबा गणिनाथ गोविंद जी महाराज की यह जयंती भारत के कोने-कोने में हर्षोल्लास के साथ मनाई जाती है। उसी पारंपरिक धार्मिक रीति रिवाज के निर्वहन हेतु पूरी सादगी के साथ, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए, बिना भीड़भाड़ के यह पूजन आज यहां संपन्न हुआ।सारण जिला कानू महासभा छपरा के अध्यक्ष वीरेंद्र साह मुखिया के आदेशानुसार पुजारी जी के साथ मात्र 20 श्रद्धालु जनों ने समस्त पूजन कार्य को संपन्न कराया। जिसमें पुजारी अशोक कुमार गुप्ता, जिला अध्यक्ष वीरेंद्र साह मुखिया, नगर अध्यक्ष ददन प्रसाद, नगर महासचिव विद्यासागर विद्यार्थी, उपाध्यक्ष डॉ हरिओम प्रसाद, शैलेश कुमार गुप्ता, जयचंद प्रसाद,काशीनाथ प्रसाद, अरुण कुमार गुप्ता शिक्षक, सत्येंद्र कुमार, राजन कुमार, अजय कुमार, लल्लन प्रसाद गुप्ता, बिहारी लाल आर्य, संतोष कुमार, अशोक कुमार, कन्हैया कुमार, श्री भगवान प्रसाद एवं श्रीकांत प्रसाद उपस्थित थे।
                                                                              
               सारण जिला कानू महासभा छपरा की टीम मीठा बाजार, मोना चौक छपरा में पूजा संपन्न कराने के बाद गरखा, सिताबगंज एवं बनकेरवां में श्रद्धालु जनों द्वारा मनाए जा रहे बाबा गणिनाथ गोविंद जी महाराज के पूजनोत्सव में भी शरीक हुई। इस टीम में वीरेंद्र साह मुखिया, डॉ हरिओम प्रसाद, कन्हैया कुमार एवं जयचंद प्रसाद शामिल थे।
बाबा गणिनाथ गोविंद जी महाराज की बढ़ती हुई ख्याति से प्रभावित होकर अन्य कई जतियो के लोग भी इनको अपने-अपने कुलदेवता के रूप में मानते हुए इनका पूजन करते हैं और उनके बताए हुए रास्ते पर चलने का प्रयास करते हैं। आज का दिन हम सभी के लिए बड़ा ही पावन दिन है। बाबा गणिनाथजी का जन्मस्थल वैशाली जिले के हसनपुर पंचायत  के अंतर्गत प्राचीन पलवैया धाम में माना जाता है। हमलोग के लिए हर्ष की बात यह है कि अब बाबा गणिनाथ गोविंदजी महाराज का भव्य मंदिर का निर्माण और सौंदर्यीकरण पलवैया धाम में हो रहा है ।#
                                                      www.aaptak.net

No comments