Header Ads

छपरा जंक्शन पर भी तैनात होगी कोविड-19 कोच, पूर्वोत्तर रेलवे ने पूरे मंडल में 217 कोच की तैयार

                                     
संवाददाता संजय भारद्वाज
बिहार छपरा
कोविड-19 
                  2.0 से लोगों में काफी डर और महामारी से निपटने के लिए लोगों के पास अस्पतालों में बेड की कमी तो कहीं ऑक्सीजन की कमी हो गई है। इस बात का विशेष ख्याल रखते हुए भारतीय रेल ने कोविड-19 महामारी से निपटने के लिए राज्य सरकार के साथ भारतीय रेल भी सरकार एवं लोगों की मदद के लिए व्यापक तैयारियां की है। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय भारत सरकार के द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के अनुरूप करुणा संक्रमित मरीजों के इलाज हेतु बेड की समस्या से निपटने के लिए कुचोको कोविड केयर कोच में परिवर्तित किया गया है। जिन्हें राज्य सरकार की मांग के अनुसार स्टेशनों पर रखा जाएगा। आपको बताते चलें कि पूर्वोत्तर रेलवे के द्वारा गत वर्ष 217 कोचों को कोविड-19 केयर कोच में परिवर्तन किया गया था। इन कोविद केयर कोचों को पूर्वोत्तर रेलवे श्री क्षेत्र के राज्य जैसे यूपी यानी कि उत्तर प्रदेश बिहार एवं उत्तराखंड प्रदेश की मांग के आधार पर संबंधित स्टेशनों पर उपलब्ध कराया जाएगा कोरोना संक्रमण को देखते हुए महाप्रबंधक पूर्वोत्तर रेलवे विनय कुमार त्रिपाठी एवं उनकी उच्चस्तरीय टीम के द्वारा स्थिति पर निरंतर निगरानी रखी जा रही है और इसकी समीक्षा भी की जा रही है आपको बताते चलें कि चिकित्सीय संसाधनों की उपलब्धता भी सुनिश्चित की जा रही है। रेलवे विभाग के चिकित्सालयों में आवश्यकता अनुसार डॉक्टर एवं पारा मेडिकल स्टाफ की संविदा के आधार पर भर्ती की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है 45 वर्ष से अधिक की आयु सभी रेल कर्मियों एवं उनके परिजनों के टीकाकरण कार्य निरंतर जारी है। वहीं कर्मचारियों के उत्साह बढ़ाने हेतु महाप्रबंधक श्री त्रिपाठी ने मंडल एवं मुख्यालय स्तर पर प्रत्येक सप्ताह में सबसे उत्कृष्ट कार्य करने वाले रेल कर्मियों को कुरौना योद्धा के सम्मान से सम्मानित कर प्रमाण पत्र एवं नगद पुरस्कार दिए जाने के लिए निर्देशित किया है।
●http://news.aaptak.net
○https://g.page/modern-home-way
#  https://g.co/kgs/8rj8xB

No comments