Header Ads

BIHAR-छपरा: किरायेदारों का सत्यापन कराना जरूरी, लॉज और होटल मालिकों को देनी होगी होटल में रुकने वाले लोगों की जानकारी

                                  
छपरा क्राइम को कंट्रोल को ध्यान में रखते हुए अब किरायेदारों का पहचान करना अनिवार्य कर दिया गया है। इसके लिए सभी होटल संचालक लॉज संचालक एवं निजी मकान मालिक सत्यापन करवाने के बाद ही किराए पर किसी व्यक्ति को रख सकेंगे। और उनके चले जाने के बाद भी इस बात की जानकारी उनके द्वारा अपने नजदीकी थाना को देनी होगी। साथ ही शहर के होटल संचालक एवं लॉज और धर्मशाला के संचालकों को भी उनके यहां रुकने वाले सभी यात्रियों के आधार कार्ड की छाया प्रति 24 घंटे के अंदर इसकी जानकारी नजदीकी थाना को उपलब्ध करानी होगी। इस बात की जानकारी सारण एसपी संतोष कुमार ने बताया कि जिले में क्राइम को कम करने को लेकर इस रूल को अनिवार्य किया गया है! क्योंकि अपराधिक तबके के जिले में अलग-अलग क्षेत्रों में ठहरते हैं और उनके द्वारा अपराध की घटनाओं को अंजाम दे देते हैं। बड़े ही आसानी से घटना को अंजाम देकर फरार हो जाते हैं!
3 कॉपी में भरनी होगी सत्यापन फॉर्म: सारण एसपी ने बताया कि किसी भी छात्र या किराएदार को रखने के लिए मकान मालिक अथवा लॉज संचालक को अपने नजदीकी थाना से संपर्क कर एप्लीकेशन प्राप्त करना होगा। जिसे तीन कॉपी में भरकर नजदीकी थाना को देना होगा साथ ही थानेदार के द्वारा सत्यापन के बाद उस एप्लीकेशन फॉर्म भर मकान के मालिक और थानेदार का हस्ताक्षर रहेगा। इस एप्लीकेशन फॉर्म में मकान मालिक के द्वारा किराएदार का पहचान के रूप में आधार कार्ड ड्राइविंग लाइसेंस,वोटर आईडी, मोबाइल नंबर,और व्हाट्सएप नंबर सहित उनके जिले में रहने का उद्देश्य भी लिखा जाएगा!
●http://news.aaptak.net
○https://g.page/modern-home-way
# https://g.co/kgs/8rj8xB

No comments