Header Ads

BIHAR-बिहार (प्रेम प्रसंग) छपरा गरखा आशिक को लोगों ने चोर समझ के कसके पिटाई कर दी। पुलिस बोली मामला स्थानीय लोगों एवं मुखिया का है।

                                    
संजय भारद्वाज 
      ब्यूरो प्रमुख,बिहार
                            हम तो तेरे आशिक हैं सदियों पुराने चाहे तू माने चाहे ना माने इस गाने को तो आप सबों ने जरूर सुना होगा इसी गाने की चरितार्थ को पूरा करते हुए मामला गरखा थाना क्षेत्र के मीठापुर गांव का मामला सामने आया है। आशिक को चोर समझकर लोगों ने कस के पिटाई कर दी! इस दौरान गांव वालों ने स्थानीय पुलिस को मोबाइल के द्वारा सूचना दी परंतु पुलिस आने से इनकार करते हुए पुलिस के द्वारा बोला गया यह मामला मुखिया का है। जिसके बाद ग्रामीणों में पुलिस के प्रति गुस्सा बढ़ गई उसके बाद घटना की जानकारी उच्च अधिकारियों को होने के बाद पुलिस घटना स्थल पर पहुंच कर स्थानीय लोगों को समझाया बुझाया। प्राप्त जानकारी के अनुसार बीते रात्रि में करीब 8:30 बजे एक चोर को ग्रामीणों ने पकड़ लिया और उसकी जमकर पिटाई भी की। इसकी जानकारी ग्रामीणों ने अपने नजदीकी थाना गरखा थाना अध्यक्ष अमितेश कुमार को दिया लेकिन मौके पर कोई भी पुलिस पद्य पदाधिकारी सूचना देने के बाद भी 2 घंटे लेट से पहुंची। जिसके कारण स्थानीय लोगों में काफी गुस्सा देखने को मिला। स्थानीय लोगों के अनुसार सबसे पहले मामला चोरी का लग रहा था लेकिन दूसरे दृष्टि से यह मामला प्रेम प्रसंग का बताया जाता है। स्थानीय लोगों ने यह भी जानकारी दी कि थाने में 10 बार कॉल करने के बाद भी यहां की पुलिस आने से कतरा रही थी। कितने बार तो मोबाइल पर फोन रिसीव नहीं किया गया। जिसके बाद गांव वाले आक्रोशित हो गए और ग्रामीणों का कहना है की इससे स्पष्ट होता है कि पुलिस की भी मिलीभगत है। जिसके कारण अपराधी अपराध करने वाले व्यक्ति को पुलिस का आरक्षण मिल रहा है। इस घटना के संबंध में थाना अध्यक्ष ने कुछ भी बताने से साफ इनकार कर दिया।

No comments