Header Ads

बिहार छपरा-(प्रेम कथा) आपत्तिजनक स्थिति में प्रेम का इजहार करने वाले प्रेमी प्रेमिका को स्थानीय निवासी के द्वारा शादी करवा दी गई। बाराती भी बने।

                                    
संवाददाता संजय भारद्वाज
बिहार छपरा-(प्रेम कथा) 
           आए दिन अगर सबसे अधिक चलन बनी है तो girlfriend aur boyfriend ka बहुत ही कम उम्र में आजकल के लड़के और लड़की प्रेम वासना मे डूबते चले जा रहे हैं। खासकर इस समय या तो ऐसा घटना बहुत बड़े शहरों में मिलता है वही ग्रामीण इलाका भी इसका नकल करने में पीछे नहीं रहा। आजकल के लड़के लड़कियों की  प्रेम, प्रेम वासना में बदल गई है और तो और अब पर्दे की भी इन लोगों के लिए कोई मायने नहीं रखता। इस तरह का घटना अभी-अभी एक प्रेम कहानी छपरा जिला के रामगढ़ा बसंत पकवा इनार का मामला सामने आया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार लड़का पक्ष और लड़की के माता-पिता एक दूसरे से शादी करने को सहमत नहीं थे। वही आपको बताते चलें शहर में संदिग्ध अवस्था में लड़का लड़की को देख स्थानीय लोगों ने उन्हें पकड़ कर बगल के हनुमान मंदिर परिसर में लाए और इसके बाद प्रेमी और प्रेमिका को उनके माता पिता का संपर्क सूचना नंबर पर कॉल करके उन्हें बुलवाया और पूरी बात की जानकारी उनके घर वालों को दिया गया। वहीं स्थानीय लोगों के द्वारा मुखिया को भी बुला कर साथ में सरपंच को भी बुला लिया। दोनों जन प्रतिनिधियों ने प्रेमी जोड़े को विवाह को लेकर पूछताछ की तो उन दोनों की रजामंदी हुई लेकिन दोनों पक्ष के माता पिता शादी करने पर राजी नहीं हो रहे थे। जनप्रतिनिधियों के काफी समझाने के बाद क्योंकि उन लोगों का भी कहना ठीक ही था। जो इस तरह रोज नए-नए जगह पर मिलते रहेंगे तो उससे और भी कोई बड़ी घटना होने की संभावना बढ़ती जाती है। उसके बाद प्रेमी युगल के माता पिता तैयार हुए दोनों की शादी कराने को फिर जब दोनों शादी के बंधनों में बंध गए उसके बाद वही उनके माता-पिता से एक सुरक्षा बांड भरवाया गया प्रेमी युगल के माता-पिता से लिखित एक बॉन्ड के रूप में लिया गया। ताकि भविष्य में ना प्रेमी युगल अलग हो पाए ना ही इनकी जान असुरक्षित रहे। इस बात की जानकारी स्थानीय लोगों के द्वारा इस बात की जानकारी गांव में जलते आग की तरह फैल गया और वहां ग्रामीणों की संख्या भीड़ मे एकत्रित हो,गई प्रेमी युगल को देखने के लिए।

No comments