Header Ads

aaptak.net:महर्षी दधिचि आश्रम मे पंच पल्लव और नवग्रह वाटिका का पौधा लगाया गया

                                                                                     
                                                                               
                                                  
छपरा सारण:युवा ब्राह्मण चेतना मंच के द्वारा पंच पल्लव और नवग्रह वाटिका का पौधा महर्षी दधिचि आश्रम उमानाथ मंदिर में लगाया गया युवा ब्राह्मण चेतना मंच और महर्षि दधीचि आश्रम उमानाथ मंदिर विकास समिति संयुक्त प्रयास से मंदिर परिसर में पंच पल्लव और नवग्रह वाटिका के पौधे लगाए गए। वर्तमान समय में कोविड-19 के प्रभाव से बचने के लिए पर्यावरण में ऑक्सीजन की कमी ना हो हमारे सनातन शास्त्र में बताएंगे पंच पल्लव और नवग्रह वाटिका को विकसित करने का प्रयास किया गया। जो वृक्ष अब शहरी क्षेत्रों में दुर्लभ हो रहे हैं उन्हें उपलब्ध कर पौधारोपण हुआ। पंच पल्लव के विषय में मंच के जिला अध्यक्ष विमलेश तिवारी उर्फ बबलू बाबा ने बताया पंच पल्लव वृक्ष को भूलते जा रहे हैं। पंच पल्लव पीपल ,बड, पकरी, गुल्लर, आम का पौधारोपण किया गया। युवा ब्राह्मण चेतना मंच के प्रमंडलीय पदाधिकारी आचार्य हरे राम शास्त्री, आचार्य श्याम सुंदर मिश्रा , आचार्य रंगनाथ तिवारी, शशि प्रकाश मिश्र उर्फ मनोज बाबानेअकवन,पलाश,खैर,चिचड़ी,पिपल,गुलर,शमी, दूर्वा,कुशा, नौ ग्रह के पौधे के विशेषता बतलाइए। कार्यक्रम के संयोजक अरुण पुरोहित ने कौन सा वृक्ष किस ग्रह के लिए के लिए पलाश , मंगल के लिए खैर, बुध के लिए अकवन, बृहस्पति के लिए पीपल, शुक्र के लिए गुलर, शनी के लिए शम्मी, राहु के लिए दुर्वा, केतु के लिए चिड़चिड़ी, सूर्य के लिए मदार, इस तरह अब महर्षि दधीचि आश्रम में ही नवग्रह की लकड़ी और पंच पल्लव का पत्ताआपको उपलब्ध हो जाएगा ! इस अवसर पर ब्राह्मण महासभा के विजय मिश्रा, अरुण तिवारी, महर्षि दधीचि आश्रम के सचिव परशुराम राय मुखिया ,उपाध्यक्ष,राजकुमार राय, आचार्य अरुण पराशर, संतोष कुमार पवन कुमार पंकज अजीत सुजीत अभिषेक राजा सूरज हरि भजन अमरजीत छोटू पंकज कुमार मुकेश, जनार्दन, सहित सैकड़ों लोगों ने इस कार्यक्रम में भाग लिया। मंदिर समिति के संयोजक और कार्यक्रम के संयोजक अरुण पुरोहित ने उपस्थित सभी लोगों से वृक्ष के संरक्षण के लिए शपथ करवाई कि हम जो वृक्ष लगाए हैं उसका अवश्य संरक्षण करेंगे। श्री श्री 108 नागा दास जी महाराज के परम शिष्य बालक खड़ेसरी , महाराज इस समय आश्रम में रह रहे हैं जो 24 घंटा फरेरा करें हठयोग के द्वारा तपस्या कर रहे हैं इन्हीं के नेतृत्व में दिनांक 23 जुलाई को जल भरी यात्रा 24 तारीख को आचार्य रंगनाथ तिवारी जी और युवा ब्राह्मण चेतना मंच के आचार्यों के द्वारा 24 घंटे का अखंड अष्टयाम 25 जुलाई को भंडारा प्रसाद का कार्यक्रम संपन्न होगा आप सभी शहरवासियों भजन प्रेमियों से आग्रह है उक्त कार्यक्रम में सम्मिलित हो पुण्य के भागी बने।

No comments