Header Ads

aap tak.net:गायत्री को मिला मढ़ौरा प्रमुख का ताज और कांति बनी उपप्रमुख

                                     
एसएन ओझा
मढ़ौरा अनुमंडल कार्यालय के सभागार में शुक्रवार को  संपन्न हुए प्रमुख उपप्रमुख चुनाव के दौरान माधोपुर से बीड़ीसी का चुनाव जीत कर आई गायत्री देवी मढ़ौरा के प्रखंड नए प्रमुख पद पर निर्विरोध चुन ली गई। 30 सदस्यों वाली मढ़ौरा प्रखंड पंचायत समिति में गायत्री देवी के अलावे प्रमुख पद के लिए किसी दूसरे प्रत्याशी के द्वारा नामांकन नहीं किए जाने के बाद निर्वाची  पदाधिकारी मढ़ौरा एसडीओ योगेंद्र कुमार ने इन्हें निर्विरोध प्रमुख निर्वाचित घोषित कर दिया । 
                                  
 बाद में आरओ द्वारा उन्हें जीत का प्रमाण पत्र भी सौंपा गया।  इसके बाद उपप्रमुख के लिए हुए चुनाव में दो दावेदार रमता कुमार सिंह और कांति देवी ने अपनी अपनी दावेदारी पेश की जिसमें कांति देवी को 14 और रमता सिंह को 13 मत प्राप्त हुए । इस प्रकार एक मत के अंतर से कांति देवी दूसरी बार उपप्रमुख की कुर्सी बचाने में सफल हो गई। इससे पहले सभी जीते हुए बीडीसी सदस्यों को निर्वाची पदाधिकारी एसडीओ योगेंद्र कुमार के द्वारा पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई गई। 
इस चुनाव के संपन्न होने के साथ ही मढ़ौरा अनुमंडल में तीन दिनों से चल रहा प्रमुख उपप्रमुख का चुनाव कार्य भी संपन्न हो गया।  यहां हुए अनुमंडल के सभी 6 प्रखंडों के प्रमुख उपप्रमुख चुनाव के लिए प्रशासन ने काफी वेहतर व्यवस्थाएं की थी और अनुमंडल कार्यालय के अंदर मुख्य प्रवेश द्वार के अंदर सभागार में सिर्फ जीते हुए बीडीसी प्रत्याशियों को ही जाने की अनुमति थी जिस कारण कहीं भी हल्ला हंगामा की शिकायत नही हो सकी। 
                                    
मढ़ौरा में शिक्षा व स्वस्थ्य व्यवस्था को करूंगी दुरुस्त : गायत्री
मढ़ौरा। नवनिर्वाचित  मढ़ौरा की प्रमुख गायत्री देवी ने जीत के बाद मीडिया कर्मियों से बातचीत करते हुए कहा कि वे अगले 5 सालों के अंदर मढ़ौरा प्रखंड के विभिन्न पंचायतों में शिक्षा और स्वास्थ्य के क्षेत्र में गुणात्मक सुधार कार्यों को प्राथमिकता देंगी।  उन्होंने कहा कि प्रखंड के विभिन्न पंचायतों के स्कूलों में गुणात्मक शिक्षा और गांव के स्वास्थ्य उप केंद्रों में चिकित्सा की बेहतर व्यवस्था करना उनकी प्राथमिकताओं में है।  उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में विभिन्न पंचायतों के स्कूलों में चिल्ड्रन पार्क का निर्माण कराएंगी जबकि स्वास्थ्य उप केंद्रों में बेहतर चिकित्सा व्यवस्था और मेडिकल उपकरण की भी व्यवस्था कराने को प्राथमिकता देंगी।
तीन मुखिया व पूर्वमुखिया की तिकड़ी ने गायत्री देवी को दिलाई सफलता
मढ़ौरा। एक संवाददाता
गायत्री देवी को मढ़ौरा प्रखंड के प्रमुख की कुर्सी तक पहुंचाने में मढ़ौरा प्रखंड के रामपुर मुखिया अमरेंद्र सिंह, नौतन के मुखिया मिथिलेश सिंह के साथ-साथ मिर्जापुर के पूर्व मुखिया हर्षवर्धन दीक्षित की अहम भूमिका रही । उक्त तीनों मुखिया और पूर्व मुखिया की तिकड़ी ने प्रमुख बनाने के लिए पिछले कई दिनों से लगातार मशक्कत किया और क्षेत्र के सभी 30 पंचायत समिति सदस्यों से संपर्क स्थापित कर उनका समर्थन पाने में अहम भूमिका निभाई। इस बीच एक समय ऐसा भी आया जब नीतू कुमारी गायत्री देवी की प्रतिद्वंदी बनकर सामने आई थी।  उस वक्त 30 में से करीब 21 बीडीसी सदस्यों को अपने पक्ष में एक साथ रखने में उक्त तिकड़ी सफल रही।  जिस कारण अंततः  विरोधी दावेदार का मनोबल टूट गया और वे अपनी हार को देखते हुए प्रतिद्वंदी बनने से बेहतर चुनाव में नहीं जाने का फैसला कर ली। मढ़ौरा प्रमुख के चुनाव में कुछ जीते हारे मुखिया के सक्रिय होने के साथ-साथ प्रसिद्ध बालू व्यवसाई रामबाबू राय और अशोक राय के साथ साथ एमएलसी का चुनाव लड़ने की घोषणा कर चुके सुधांशू रंजन, जदयू के सचिव अल्ताफ आलम राजू , शिला राय सहित अन्य कई लोगों के सक्रिय हो जाने के कारण यह चुनाव काफी हाईटेक हो गया था। इस कर्ण से मढ़ौरा प्रमुख की प्रमुख की कुर्सी पर ऊपर से नीचे तक सबकी नजर लगी हुई थी।
                                   
अमनौर से फरीदा बनी प्रमुख और विवेकानंद बने उपप्रमुख
मढ़ौरा। एक संवाददाता
स्थानीय अनुमंडल कार्यालय के सभागार में हुए अमनौर प्रमुख उपप्रमुख के चुनाव के दौरान आमनौर प्रमुख पद पर फरीदा खातून जबकि उप प्रमुख पद पर विवेकानंद राय को निर्वाची पदाधिकारी मढ़ौरा एसडीओ योगेंद्र कुमार ने निर्वाचित घोषित किया।  चुनाव प्रक्रिया संपन्न होने के बाद निर्वाची पदाधिकारी ने इन दोनों जीते हुए प्रमुख उपप्रमुख को प्रमाण पत्र भी सौंपा।  26 सदस्यों वाले अमनौर प्रखंड पंचायत समिति के 19 सदस्यों ने फरीदा खातून के पक्ष में मतदान किया जबकि इनके प्रतिद्वंदी अवधेश प्रसाद को मात्र 7 मत ही प्राप्त हुए।  इसके अलावा उपप्रमुख के लिए हुए चुनाव के दौरान विवेकानंद राय को 13, अंशु तिवारी को 01 और रंभा देवी को 11 मत प्राप्त हुए इस प्रकार से अमनौर प्रखंड प्रमुख के पद पर फरीदा खातून जबकि उपप्रमुख पद पर विवेकानंद राय निर्वाचित घोषित किए गए।  अमनौर प्रखंड के नव निर्वाचित प्रमुख फरीदा खातून और उपप्रमुख विवेकानंद राय राजद के जिला अध्यक्ष सुनील राय के काफी करीबी बताये जाते हैं।

No comments