Header Ads

aap tak.net:रेलवे के निजी कारण एवं निगमीकरण पर भड़के रेलकर्मी बैठक कर विभिन्न मांगों को रेलवे बोर्ड के सामने रखा














                                         
रेलवे ने मांगों पर विचार नहीं किया तो होगा चरण बंद आंदोलन
 संजय भारद्वाज 
            ब्यूरो प्रमुख बिहार झारखंड।
 छपरा
एन ई रेलवे मजदूर यूनियन मैकेनिकल शाखा छपरा के तत्वधान में छपरा जंक्शन पर एक आपात बैठक हुई अध्यक्ष अमरनाथ सिंह ने की।
                                  
 रेल कर्मियों ने रेलवे बोर्ड और भारत सरकार को चेताया की रेलवे का निजीकरण एवं निगमीकरण अभिलंब बंद किया जाए।
                                 
पूर्वोत्तर रेलवे मजदूर यूनियन ने अपनी मांगों में मुख्य रूप से रेलवे का निजी एवं निगमीकरण बंद करने ,न्यू पेंशन स्कीम वापस कर ओल्ड पेंशन स्कीम लागू करने, रेलवे के रिक्त पदों पर अविलंब बहाली करने बी ओ एस का कटौती को वापस करने ,रेलवे कर्मचारियों को उनका वाजिब भत्ता देने, जो भत्ता रोक दिया गया है उसे फिर से चालू करने शिक्षण शुल्क अविलंब भुगतान करने, रेलवे आवास की मरम्मत एवं रंगाई पुताई कराने आदि की मांगे रखी. बैठक में यूनियन के अध्यक्ष अमरनाथ सिंह ,कार्यकारी अध्यक्ष विजय कुमार यादव , उपाध्यक्ष पंकज कुमार सिंह, शाखा मंत्री शशि भूषण प्रसाद, संयुक्त मंत्री मान सिंह यादव, राकेश कुमार, संगठन मंत्री समरेंद्र सिंह, विनय कुमार सिन्हा, ज्ञानी राम ,प्रिंस कुमार, काशीनाथ प्रसाद, शेषनाथ दीपक कुमार मनोज कुमार नीरज कुमार पासवान अभिषेक कुमार, सचिन कुमार, संतोष कुमार, प्रशांत कुमार एवं अन्य पदाधिकारी व सुपरवाइजर तथा कर्मचारी उपस्थित थे।

No comments